HSLC Result

Search
Close this search box.

Raksha Bandhan Date 2023 : रक्षाबंधन कब है ? शुभ मुहूर्त और पूजन विधि जानें, Raksha News

WhatsApp
Telegram
Facebook
Twitter
LinkedIn
Raksha Bandhan Date 2023

Raksha Bandhan 2023 : यह तो हम सभी लोग जानते हैं कि हर साल रक्षाबंधन का त्यौहार सावन महीने की पूर्णिया की दूरी मनाया जाता है और हम लोग इस पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन को राखी पूर्णिमा भी कहते हैं और इस दिन बहने भाइयों की समृद्धि के लिए उनकी कलाई पर रंग और बिरंगी राखियां बांधती है और वही राखी के बदले भाई बहनों को उनकी रक्षा का वजन भी दिया करते हैं और देखा जाए तो कुछ क्षेत्र में हमारे इस पर्व को राखरी भी कहा जाता है और अंग्रेजी कैलेंडर के कारण संतान पर्व की तिथियों में अक्सर उलटफेर देखने को मिलता रहता है और कुछ इस बार भाई-बहन के प्रेम के पर्व रक्षाबंधन पर भी देखने को मिल रहा है

क्योंकि भद्रा के साए के कारण लोग असमंजस में पड़ चुके हैं कि आखिर रक्षाबंधन का पर्व कब होगा 30 अगस्त या 31 अगस्त को रक्षाबंधन मनाया जाएगा तो इस खबर में ज्योतिषी महा संत श्री अश्विनी पांडे जी के द्वारा बताई गई बात के माध्यम से जानेंगे कि आखिर इस बार रक्षाबंधन कब मनाया जाएगा और अलग-अलग धातु की राशियों के प्रभाव और विभिन्न राशियों को सुविधा प्रदान करने वाले राशियों के रहने के बारे में भी जानेंगे आगे और भी रक्षा बंधन न्यूज़ को जानें|

रक्षाबंधन कब है ?

Raksha Bandhan Date 2023 : रक्षाबंधन किस तारीख को मनाया जाएगा : सावन पूर्णिमा के पूर्णिमा को भाई बहन का सबसे प्यारा कौन पवित्र पर्व है और इस बीच आप यह जानना चाहते हैं की रक्षाबंधन कब है तो वाराणसी ज्योतिष महंत श्री और अश्विनी पांडे के द्वारा यह बताया गया है कि हिंदू पंचांग के अनुसार देखा जाए तो प्रत्येक वर्ष सावन माह की पूर्णिमा तिथि के दिन हम लोग रक्षाबंधन पर्व को मनाते हैं और मनाया जाता है और इस वर्ष 2023 में सावन पूर्णिमा का आरंभ 30 अगस्त 2023 को 10:59 से होगा और इसका समापन सुबह 7:05 पर होगा और सावन पूर्णिमा किसी के साथ ही भद्राकाल का आराम भी हो जाएगा तो शास्त्रों ने भद्राकाल में श्रावणी पर्व मनाया निषेध माना गया है और इस दिन को भद्र काल का समय रात्रि 9:02 तक पूर्ण रूप से रहेगा तो आप इसलिए इस समय के बाद ही राखी को बांधे और पूर्ण रूप से उपयुक्त रहेगा राखी बांधने के लिए दोपहर का समय शुभ होता है हालांकि दोपहर के समय भद्र काल हो तो फिर आप प्रदोष काल में राखी बांधना शुभ होता है और ऐसे में आप 30 अगस्त के दिन भद्र काल के कारण राखी बांधने का मुहूर्त सुबह के समय नहीं होगा और आप उसी दिन रात में ही राखी बांधने का मुहूर्त है 31 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा सुबह 7:05 तक है और इस समय में भद्र का साया नहीं है तो आप इस वजह से 31 अगस्त को सुबह के समय राखी बनवा सकते हैं और इस वर्ष रक्षाबंधन का त्योहार 30 और 31 अगस्त दोनों को मनाया जा सकता है लेकिन आपको भद्रा काल का पूर्ण रूप से ध्यान रखना होगा |

रक्षाबंधन शुभ मुहूर्त ?

Raksha Bandhan Subh Muhurat रक्षाबंधन 2023 का शुभ मुहूर्त 30 अगस्त को रात्रि 9:00 बचकर 1 मिनट के बाद और इस मुहूर्त का समापन 31 अगस्त को सूर्योदय काल में सुबह 7 बजकर 5 बजे समाप्त होगा इस तरह रक्षाबंधन 2023 का शुभ मुहूर्त है |

रक्षाबंधन पूजन विधि कैसे करें ?

रक्षाबंधन पूजन विधि इस तरह से करें कि राखी बांधने से पहले बहन और भाई दोनों व्रत रखें और फिर व्रत रखने के बाद भाई को राखी बांधते समय पूजा की थाली में राखी रोड़ी दीया कुमकुम अक्षत और मिठाई उनके पास रखें और राखी बांधने से पहले भाई के माथे पर तिलक लगाएं और फिर बहने अपने भाई को दाहिने हाथ से राखी को बांधे और अब राखी बांधने के बाद भाई को आरती उतारे और इस तरह यदि आप भाई आप से बड़ा है तो उसके पैर छूकर आशीर्वाद ले और यदि बहन आप से बड़ी है तो आप ही पैर छूकर आशीर्वाद ले सकते हैं और फिर इसके बाद भाई अपनी इच्छा अनुसार बहन को कुछ राखी बांधने का उपहार दे सकते हैं |

रक्षाबंधन में किस तरह का राखी इस्तेमाल करना चाहिए ?

यदि आप इस तलाश में है कि आखिर रक्षाबंधन में किस तरह का राखी बांधना चाहिए तो आप प्लास्टिक और तब चा को नुकसान पहुंचाने वाली राशियों का प्रयोग करने से आपको बचना चाहिए क्योंकि उसमें पर्यावरण और व्यक्ति को काफी भारी नुकसान के साथ-साथ शुद्धता और भावना की बहुत कमी होती है रक्षाबंधन एक बहुत ही पवित्र पर्व है और इस कारण से इसकी पवित्रता बनाए रखने के लिए खिलौने और प्लास्टिक या अन्य नुकसान करने वाले पदार्थ से बनी हुई राखी का उपयोग बिलकुल नहीं करना चाहिए क्योंकि रक्षा सूत्र के लिए रेशम का धागा सुई धागा अलावे का प्रयोग करना बहुत ही शुभ माना जाता है और इसके पश्चात यदि चांदी यह सोने की राखी का इस्तेमाल भी किया जा सकता है इसलिए आप प्लास्टिक नुकसान करने वाले राखी को इस्तेमाल ना करें |

रक्षाबंधन में राशियों के अनुसार राखियां कौन-कौन है ?

रक्षाबंधन में राशियों के अनुसार राखियां देखें कि आखिर कौन-कौन से राशियों के राखी देव ज्योतिष महंत श्री अश्विनी पांडे के मुताबिक राशि के अनुसार आप यदि राखी बांधी जाए और देखा जाए तो काफी लाभदायक होता है और भाइयों के लिए हर प्रकार का लाभ प्रदान करने के लिए इस आर्टिकल के नीचे देखें |

1. मेष– मेष राशि के स्वामी मंगल हैं तो मेष राशि वालों को लाल रंग की राखी बांधनी चाहिए|

2. वृषभ– वृषभ राशि वालों के लिए नीले रंग की राखी शुभ होती है|

3. मिथुन– मिथुन राशि के लिए हरे रंग की राखी शुभ होती है|

4. कर्क– कर्क राशि के लिए सफेद या चांदी की राखी बहुत सुख प्रदान करने वाली और शुभ मानी जाती है|

5. सिंह– सिंह राशि जिसके स्वामी सूर्य हैं. उनके लिए सुनहरा रंग या पीले रंग की या स्वर्ण की भी राखी बहुत शुभ मानी जाती है|

6. कन्या– कन्या राशि के स्वामी बुध होते हैं इसलिए इनके लिए हरे रंग की राखी शुभ मानी जाती है|

7. तुला– तुला राशि के स्वामी शुक्र होते हैं अतः सफेद या चमकीले सफेद रंग की राखी शुभ है|

8. वृश्चिक– वृश्चिक राशि वालों के लिए लाल रंग की राखी शुभ मानी जाएगी|

9. धनु- धनु राशि के स्वामी गुरु बृहस्पति हैं अतः पीले रंग की राखी शुभता प्रदान करने वाली होगी|

10. मकर– मकर राशि के स्वामी शनि है अतः नीले रंग की राखी लाभदायक होगी|

11. कुंभ– कुंभ राशि के स्वामी भी शनि है. इन्हें भी नीले रंग की या इनके लिए आराध्य महादेव के रुद्राक्ष की राखी भी लाभदायक रहेगी|

12. मीन– मीन राशि के स्वामी गुरु है अतः इनके लिए पीले रंग, सुनहरे रंग और हल्दी कलर के रंग की राखी शुभ व लाभदायक रहेगी|

 

संबंधित ख़बरें : 

Government Solar Panel Scheme 2023 : सोलर पैनल योजना का लाभ उठाएं, अपने घर पर लगाएं सोलर पैनल

info@hslcresult.in  के बारे में
info@hslcresult.in At Teckshop, we’re here to help your business thrive online. Our team of experts offers a comprehensive suite of digital marketing services, including web development, social media management, and logo design. Let us transform your digital presence and help you establish a strong and effective online presence that resonates with your target audience. Read More
For Feedback - info@hslcresult.in
WhatsApp Icon Telegram Icon